पांवटा साहिब : स्वर्गीय कंवर हरि सिंह की याद में हिमोत्कर्ष ने किया पौधारोपण…
पांवटा साहिब : स्वर्गीय कंवर हरि सिंह की याद में हिमोत्कर्ष ने किया पौधारोपण…
Environmental updated 3 months ago

पांवटा साहिब : स्वर्गीय कंवर हरि सिंह की याद में हिमोत्कर्ष ने किया पौधारोपण…

पांवटा साहिब : स्वर्गीय कंवर हरि सिंह की याद में हिमोत्कर्ष ने किया पौधारोपण

17

पांवटा साहिब : स्वर्गीय कंवर हरि सिंह की याद में हिमोत्कर्ष ने किया पौधारोपण

पांवटा साहिब में समाजसेवी संस्था हिमोत्कर्ष के संस्थापक अध्यक्ष स्वर्गीय कंवर हरि सिंह की पुण्यतिथि पर उनकी याद में पौधारोपण किया गया।

इस मौके पर हिमोत्कर्ष की जिला इकाई, क्लीन पांवटा ग्रीन पांवटा के स्वंयसेवी के साथ पांवटा साहिब के पत्रकारों ने शिरकत की।

पौधारोपण का शुभारंभ हिमोत्कर्ष जिला सिरमौर के वरिष्टतम सदस्य 82 वर्षीय एमएस भटनागर छात्रवृति प्रकल्प के प्रभारी ने पौधा रोप कर शुभारंभ किया।

इस मौके पर हिमोत्कर्ष के जिला अध्यक्ष और पांवटा प्रेस क्लब के अध्यक्ष आरपी तिवारी ने बताया कि स्वर्गीय ठाकुर रघुवीर सिंह व स्वर्गीय कृष्णा देवी के घर 1939 में जन्में कंवर हरि सिंह ने पठानकोट के एसएमएसडीआर कालेज से 1960 में स्नातक उपाधि प्राप्त की।

अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के प्रदेश सैक्रटरी जनरल के रूप में उनकी पहचान एक जुझारू नेता की रही,जोकि कर्मचारी हितों के लिए लगातार संघर्षरत रहे।

उनके नेतृत्व में प्रदेश में कर्मचारी महासंघ ने दो बड़े आंदोलन लड़े, जिसमें कर्मचारियों के लिए चिरस्थाई नीति निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ। वहीं वह राज्य राजपत्रित अधिकारी संघ के भी प्रधान रहे।

 

समाज सेवा के क्षेत्र में कंवर हरि सिंह बचपन से ही जुटे रहे है। 1974 में उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर हिमोत्कर्ष साहित्य,संस्कृति एवं जनकल्याण परिषद पंजीकृत संस्था की स्थापना की।

जोकि अब प्रदेश की अग्रणी स्वयंसेवी संस्था का रूप धारण कर चुकी है। वर्तमान समय में इस संस्था की प्रदेश में 12 शाखाएं शिक्षा,स्वास्थय,गरीबों के उत्थान,महिला सशक्तिकरण तथा समाज सेवा के विभिन्न प्रकल्पों को अंजाम दे रही है।

 

 

 

समाज सेवा के क्षेत्र में कंवर हरि सिंह बचपन से ही जुटे रहे है। 1974 में उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर हिमोत्कर्ष साहित्य,संस्कृति एवं जनकल्याण परिषद पंजीकृत संस्था की स्थापना की।

जोकि अब प्रदेश की अग्रणी स्वयंसेवी संस्था का रूप धारण कर चुकी है। वर्तमान समय में इस संस्था की प्रदेश में 12 शाखाएं शिक्षा,स्वास्थय,गरीबों के उत्थान,महिला सशक्तिकरण तथा समाज सेवा के विभिन्न प्रकल्पों को अंजाम दे रही है।

Image
infoclear

17

2 Comments

Travyam Name
Travyam Name

Jejrhr

REPLY
Travyam Name
Travyam Name

Usueueurury

REPLY

Was this article helpful ?

7
3

Subscribe to our email newsletter & receive updates right in your inbox.