सुप्रीम कोर्ट का फैसला जो मन को छू गया...
सुप्रीम कोर्ट का फैसला जो मन को छू गया...
Regional News updated 10 days ago

सुप्रीम कोर्ट का फैसला जो मन को छू गया...

देश की सुप्रीम कोर्ट ने बीते कल एक बड़ा फैसला सुना कर इस देश के गरीब तबके के मन में एक अलग लो जला गया दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने आईआईटी बॉम्बे बी टेक इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में एक सीट मुहैया कराने का निर्देश दिया है

0

आईआईटी मुंबई अथॉरिटी को दिखाया आईना..

Image

ASOKA TIME'S/साभार अ उ.

देश की सुप्रीम कोर्ट ने बीते कल एक बड़ा फैसला सुना कर इस देश के गरीब तबके के मन में एक अलग लो जला गया दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने आईआईटी बॉम्बे बी टेक इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में एक सीट मुहैया कराने का निर्देश दिया है

वहीं 48 घंटे में अनुपालना सुनिश्चित करने का भी आदेश पीठ ने दिया।

 दरअसल आईआईटी मुंबई में बीटेक कर रहे जयबीर तकनीकी गड़बड़ियों के चलते प्रवेश प्रक्रिया पूरी नहीं कर पाया था क्योंकि उसके पास 50 हजार फीस जमा करवाने के लिए नहीं थे लेकिन जयवीर अपनी काबिलियत पर आईआईटी बॉम्बे एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर चुका था ऐसे में आईआईटी बॉम्बे ने जयवीर जो यूपी का छात्र था उसे एडमिशन से मना कर दिया जयवीर किसी तरह सुप्रीम कोर्ट के दरवाजे तक पहुंचा ।

जहां सुप्रीम कोर्ट को आईआईटी मुंबई अथॉरिटी ने कहा कि सभी सीटें भर चुकी हैं अपील करता को दाखिला किसी अन्य छात्र की एवज में देना होगा 

सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने कहा कि आप कुछ भी करने के लिए बाध्य हैं अभी मौका दे रहे हैं नहीं तो अनुच्छेद-142 के तहत आदेश पारित करेंगे बेहतर होगा आप इस युवा के लिए कुछ करें सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कॉमन सेंस की बात है कौन सा छात्र आईआईटी बॉम्बे में प्रवेश पाएगा या भुगतान नहीं करेगा स्पष्ट है कि उसे कुछ वित्तीय समस्याएं थी आपको देखना होगा कि जमीनी हकीकत क्या है सामाजिक जीवन की वास्तविकता क्या है किस तरह से यह छात्र आईआईटी बॉम्बे तक पहुंचा है इस छात्र ने कोई गलती या लापरवाही नहीं की है बल्कि कुछ पैसों के लिए इसके भविष्य को दांव पर नहीं लगाया जा सकता।

अथॉरिटी: किसी भी आईआईटी में सीट खाली नहीं है सभी सीटें भर चुकी है

पीठ : फिर हम अनुच्छेद 142 के तहत छात्रों को प्रवेश देने के लिए देते हैं अथॉरिटी अपना सिस्टम मजबूत करें ऐसी स्थिति के लिए बफर होना चाहिए।

फिलहाल सुप्रीम कोर्ट बड़ी राहत इस युवा को दी है जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ व जस्टिस ए एस बोपन्ना की पीठ ने संविधान के अनुच्छेद 142 का विशेष अधिकार इस्तेमाल सर इस युवा को आगे बढ़ने का मौका दिया है

आपातकालीन गेट करवा दिए बंद...

ये भी पढ़ें...

इकलौते पार्क पर VIP कल्चर सोच भारी..दीवारें हटाकर लगें रेलिंग...रोहतासhttps://bit.ly/30OEuaQ

9 बजे के बाद खतरनाक नेशनल हाईवे का लाइव...https://bit.ly/3nEpmFB

infoclear

0

0 Comments

Was this article helpful ?

0
0

Subscribe to our email newsletter & receive updates right in your inbox.